Blog

देश द्रोही की सूचना सहायता से अंग्रेजों ने दी थी चंदु को फांसी।

केरल के वायनाड में तोंडूरनाड़ में जन्मे तलक्कल चंदु कुरुचिया जनजातीय के वीर बलिदानी थे जिनका शौर्य अद्भुत था। भारतीय

0 Minute
Historical

अंग्रेज अधिकारी का वध करने वाले बाबा तिलका मांझी का शौर्य और बलिदान आज भी जिवित।

अमर बलिदानी तिलका मांझी का जन्म 11 फरवरी 1750 में सुल्तानगंज, बिहार के तिलकपुर में हुआ था संथाल जनजाति के

0 Minute
Blog

साहस, शौर्य और शक्ति का प्रतिमान और मुग़लों को धूल चटाने वाली अमर बलिदानी रानी दुर्गावती।

भारत वर्ष की वीरांगना में से एक महान रानी दुर्गावती जिसने मालवा पर कब्जा करने वाले बाज बहादुर, दिल्ली के

0 Minute